Loading ...

दीदी की चिट्ठी | Abhipraay Foundation

दीदी की चिट्ठी

 /5
0 (0votes)

मेरी ये चिट्ठी तुम सब बच्चो के लिए है। मैं थोड़ी दूर हूं तुम सबसे, पर मेरा मन तुम बच्चो में ही है। 
हम बहुत महीनों से नहीं मिले...पर मैं चाहती थी कि मैं तुम्हे चिठ्ठी लिखूं, तुम्हे बता पाऊं की तुम सबमें असीम क्षमता है। तुम सब आसमान छू सकते हो बस सपने देखना मत छोड़ना। 
सपने भी खुली आंखो से देखना, ऐसे सपने जो तुम्हे सोने भी ना दे..
मैं समझती हूं कि कई बार तुम्हे लगता होगा कि ये सब नहीं हो पाएगा, क्यूंकि तुम्हारे पास तुम्हारे दोस्त जितने पैसे नहीं है कि तुम सबसे महंगा वाला ट्यूशन पढ़ सको, या फिर कोई सबसे अच्छा फोन/लैपटॉप खरीद सको.. पर ये भी तो समझो कि रिसोर्सेज थोड़े कम है तो क्या हुआ? तुम्हारी इच्छा शक्ति तो सबसे बड़ी है, तुम्हारी सीखने की ख्वाहिश तो सबसे ज्यादा है। 
याद रखना बच्चो,... जहां चाह होती है, वहां राह निकल ही जाती है। 
चलो हम कुछ बातो की गांठ बाध लेते है
1. क्वेश्चन पूछना सीखो बिना ये सोचे हुए की सामने वाले को कैसा लगेगा, या कोई तुम्हारे बारे में क्या सोचेगा। पता है अगर न्यूटन ने ये सवाल नहीं पूछा होता कि सेब पेड़ से नीचे क्यूं गिरते है ऊपर क्यूं नहीं जाते...तो ग्रेविटी जैसे कांसेप्ट की खोज ही नहीं हो पाती, चांद सितारों के कितने रहस्य अनसुलझे रह जाते। 
2. याद रखना तुम्हारा भविष्य तुम्हारे हाथों में है, और तुम्हे ही उसे बनाना है, तुम दुसरो को अपनी असफलताओ के लिए दोष तो दे सकते हो पर वो तुम्ही होगे जिसे सफ़र करना होगा तो जान लगा दो अपने लक्ष्य के लिए और कोशिश करना की जिंदगी में उस मुकाम पर पहुंचे जहां किसी की मदद करने के लिए तुम्हे सोचना ना पड़े। 
3. किसी को उसकी शक्ल से, कपड़ो से या उसकी जाति धरम से जज मत करो.. इस दुनिया में सबसे बड़ा धरम ह्यूमैनिटी का है, कोशिश करना की तुम्हारी भाषा तुम्हारे व्यवहार से किसी को दुख ना पहुंचे। 
4. एक और अहम बात, याद रखना की ये दुनिया जितनी लड़को की है उतनी ही लड़कियो की भी है, उनको भी उतनी इज्जत मिलनी चाहिए जितने की किसी और को। 
उनकी हां या ना का सम्मान करना सीखना मेरे बच्चो...मैं चाहती हूं तुम कुछ भी बनने से पहले एक अच्छे इंसान बनो।

खुद पर और अपने सपनो पर भरोसा करना सीखो।
अभिप्राय कोई बहुत बड़ी संस्था नहीं पर हम तुम बच्चो से वादा करते है कि तुम्हारे रास्ते के पत्थर हम तुम्हारे साथ मिलकर हटाएंगे।

Comments (no comments yet)

  • :*
  • :*
  • :
 *

Top Posts